तानो के रूप अनेक।

ताने( Taunt)  यह शब्द तो आपने सुना ही होगा, और इसका अर्थ भी आप अच्छे से जानते होंगे। ताना मारना यह प्यार से भी किया जाता है, मज़ाक में भी, और भी बहुत तरीके है। आइये देखते है।

फिक्र का चोला :-
फिक्र का चोला पहन कर भी ताना मर जाता है और यह बहुत ही अजीब चीज है, जिसमें ताना सुनने वाला समझ तो सकता है लेकिन वह कह नही सकता कि कोई उसे ताना मार रहा है।  अगर आप ऐसा करते है और ताना मारने वाले को कहते है कि आप ताने क्यों मार रहे है। तब वह कहेंगे कि उन्हे आपकी फिक्र है इसीलिए ऐसा कह रहे है।

प्यार का मुखौटा :-
ताना मारने का नया चलन है प्यार। यह फिक्र की तरह ही है लेकिन ताने मारने वाले के लिए और भी मजबूत कवच बनाता है, जिससे कि कोई उन्हे गलत नही कह सकता।

मजाक का रूप :-
मजाक में ताने मारना बहुत प्रचलित है जिससे सुनने वाले को पता भी चले कि उसे ताने मारे जा रहे है। तब यह कह कर बचा जा सकता है मजाक था और मजाक का बुरा नही मानना चाहिये।

यह सभी वह तरीके है जिनका इस्तेमाल करके  ताने मारे जाते है। और यह सोच कर ताने मारे जाते है कि लोगो को बुरा भी लगे और वह कह भी ना सके। यह सामने बैठकर गाली देना, दिल दुखाना है।

लेकिन एक बात ध्यान रखनी चाहिये कि इंसान समझ ही जाता है कि आप क्या बात क्या समझ कर कह रहे हो या यूँ कहा जाए कि किसी के ताने समझ में आ जाते है। 
सब समझ आता है कि प्यार है, मजाक है, फिक्र है, या ताने मिल रहे है इन सबकी पैकिंग में।

आपको भी कही ना कहीं किसी ना किसी ने ताने तो दिये होंगे, ताने सभी को मिल ही जाते है। 
अजीब है ना, जिनसे ये उम्मीद की जाती है कि वो लोग प्यार करें, फिक्र करें। वही लोग फिक्र और प्यार का जामा पहनकर ताने मारने का काम करते है। 

Share कीजिये अपने मित्रों के साथ, रिश्तेदारों के साथ, और लोगों को बताये कि जिस काम की उम्मीद की जाती है वह वही करें, उन चीजों का दिखावा करके ताने का काम नही करें।

© योगेन्द्र सिंह | 2019
www.sirfyogi.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *